चैंपियन की बीजेपी में घरवापसी का UKD ने किया जबरदस्त विरोध

इं हरीश चन्द्र पाठक
केन्द्रीय कार्यकारी अध्यक्ष (UKD )

भाजपा का कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन को अपने दल में वापस लेना एक निंदनीय कदम है। राष्ट्रीय दल हमेशा पहाड़ विरोधी गतिविधियों में शामिल रहे है। भाजपा आजतक जोड़ तोड़ की राजनीती करती आयी है जिससे हमारे प्रदेश को काफी नुकसान हुआ। ये कदम जनता और उत्तराखंड प्रदेश पर एक करारा तमाचा है। यह अपमान है हमारे वीर क्रांतिकारियों का जिन्होंने इस राज्य की प्राप्ति के लिए अपनी कुर्बानियां दी। उत्तराखंड क्रांति दल जनता के साथ इस अन्याय को बर्दाश्त नहीं करेगा। जो व्यक्ति उत्तराखंड को गाली देता है, उत्तराखंड की जनता को गाली देता है, उसे इस प्रदेश में स्वीकार नहीं करा जा सकता। हमें अगर अपने उत्तराखंड को इन विदेशी लोगो से बचाना है, जो यहां राज करते रहे है और इस प्रदेश को बर्बाद किया है, तो हमे मिलकर इन सबका सामना करना पड़ेगा। उत्तराखंड की स्थिति इस समय वैसी ही है जैसे हमारे देश की थी अंग्रेजों ने जब भारत पर राज करा था। अगर यही सब चलता रहा तो उत्तराखंड क्रांति दल सन ९० के दशक की तरह फिर से इस प्रदेश को बचाने के लिए आंदोलन करेगा। आज हमारे दल के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश के विभिन्न भाजपा कार्यालयों में धरना प्रदर्शन कर कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन का पुतला दहन करा। प्रणव एक जनप्रतिनिधि है, उनको अपनी जनता और इस राज्य का सम्मान करना चाहिए, जिनकी वजह से वे आज यहां तक पहुंचे है। उनके जनता के प्रति अपमान को देखते हुए शुरुआत में भाजपा ने उन्हें ६ वर्ष के लिए प्राथमिक सदस्यता से निष्काशित करा था, लेकिन सत्ता का मोह भंग ना होने के कारण मात्र १३ माह में ही वापस बुला लिया। क्या यही भाजपा के सिद्धांत है? क्या सत्ता में रहने के लिए भाजपा इस हद तक आजाएगी कि निकृष्ट हरकते करने वाले व्यक्ति को वापस बुला ले? उत्तराखंड व जनता का सम्मान सर्वप्रिय है। उत्तराखंड क्रांति दल इस अपमान का बदला लेगा। जनता से अनुरोध है की आप सब मिलकर आगे आए और उत्तराखंड क्रांति दल का उसी तरह से समर्थन करे जैसे राज्य आंदोलन के समय करा था, ताकि हम अपने उत्तराखंड के अपमान का बदला ले सके। उत्तराखंड क्रांति दल का सदस्यता अभियान शुरू हो चुका है, आप सभी से उम्मीद है आप सब लोग मिलकर पूर्ण रूप से सहयोग करेंगे और बढ़ चढ़कर प्रतिभाग करेंगे।

आपका,

इं हरीश चन्द्र पाठक

केन्द्रीय कार्यकारी अध्यक्ष उत्तराखंड क्रांति दल।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *